WordPress Gutenberg क्या है? WordPress Gutenberg Tutorial in Hindi

MarketingHindi.com

WordPress Gutenberg tutorial in hindi-

WordPress 2002 में मार्केट में आया और तब से धीरे धीरे प्रचलित होने लगा. समय अनुसार इसमें सुधार होने लगे और ज्यादा से ज्यादा लोग वर्डप्रेस पर अपनी website बनाने लगे. अब पूरी दुनिया की करीब करीब 32% websites WordPress पर बनी है.

वर्डप्रेस के “Drag and Drop” feature से लोग आसानी से अपनी website खुद ही बनाने लगे वो भी बिना किसी coding knowledge के. अब तो themes और plugins की मदद से website 10 मिनट में बना सकते है.

पिछले काफी महीनों से वर्डप्रेस का नया update चर्चा में रहा. WordPress Gutenberg इसी update का नाम है. इसका नाम Johannes Gutenberg के सम्मान में रखा गया है, जिन्होंने पहले चलते-फिरते printing press का अविष्कार किया.

दिसंबर 6, 2018 को वर्डप्रेस ने Gutenberg को अपना default editor घोषित कर दिया.

यह नया editor “Block editor” के नाम से मशहूर होने लगा है, क्योंकि इसमें आप blocks की मदद से अपना content बनाते है.

तो चलिए शुरू करते है WordPress Gutenberg tutorial in Hindi और देखते है गुटेनबर्ग क्या है और blocks का इस्तेमाल कैसे करते है.

WordPress Gutenberg क्या है?

Gutenberg banner
Image credits: WordPress.org

Gutenberg WordPress का नया editor है, जिसने वर्डप्रेस classic editor को replace किया है.

WordPress ने अपना 5.0 version रिलीज़ किया है, जिसका नाम Gutenberg है.

Gutenberg WordPress में अभी तक का सबसे बड़ा update है. ये साधारण updates जैसा update नहीं है. Gutenberg Editor के आने से वर्डप्रेस में website बनाने का तरीका पूरी तरह से बदल गया है.

पुराने WordPress Editor और नए Gutenberg Editor में क्या फरक है?

पिछले editor का interface Microsoft word जैसा दिखता था, जिसमे formatting buttons भी Microsoft word जैसे ही थे.

गुटेनबर्ग में हर चीज़ एक block के रूप में है. अब आप directly front-end में edit कर सकते है, blocks की मदद से. हर element एक block है जैसे की:

  • Paragraph
  • Quote
  • Image
  • Video
  • Code
  • Heading
  • Gallery
  • Table
  • Widgets(जो पिछले में sidebar widgets थे)

किसी भी block को edit करके नया layout बना सकते है. और सबसे अच्छी बात है की in blocks को re-use भी कर सकते है, जिन्हे Reusable blocks कहते है.

अब-तक आप जान चुके है की गुटेनबर्ग क्या है और इसे block -editor क्यों कहते है. तो चलिए अब हम वर्डप्रेस ब्लॉक एडिटरका expert बनाने के लिए tutorial को शुरू करते है.

इस WordPress Gutenberg tutorial in Hindi में हम ये सब topics को cover करने वाले है:


  1. Gutenberg install कैसे करे?
  2. Editor Interface Demo in Gutenberg.
  3. नया post या page कैसे बनाते है?
  4. Gutenberg में blocks कैसे add करते है?
  5. Basic Gutenberg Blocks का इस्तेमाल.
  6. Post settings and publish settings

Gutenberg Install कैसे करे?

Gutenberg Plugin से  आप official Gutenberg Editor install कर सकते है. इस Editor को install करने के लिए, ये steps follow करे:

1. अपने वर्डप्रेस dashboard में left side Menu bar में Plugins पर क्लिक कीजिये और ‘Add New’ पर क्लिक करे.

WordPress Gutenberg tutorial in hindi

2. अब आप WordPress Repository के search box में ‘Gutenberg’ type कीजिये.

Gutenberg Plugin installation Hindi tutorial

3. अब आप ‘Install now’ करके, activate पर क्लिक करे

Congrats! गुटेनबर्ग install हो चूका है.

Gutenberg Editor Interface Demo.

Gutenberg Interface Demo hindi

Gutenberg install करने के बाद, आपको left side Menu bar में Gutenberg icon मिलेगा.

इस icon पर आपको Demo option मिलेगा, जहाँ पर पहले से एक post बना हुआ है. आप यहाँ block options check करके practice कर सकते है.

Gutenberg में नया post and page कैसे बनाते है?

Post and pages image

Gutenberg editor में post ya page बनाना पिछले editor जैसा ही है. इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है.

Dashboard में जाकर ‘Posts’ menu पर क्लिक करे. फिर ‘Add new’ button पर क्लिक करने se नया post बन जाएगा.

Gutenberg में blocks कैसे add करते है?

Add blocks in Gutenberg hindi

हर post या page पर पहला block ‘Title’ block है, जो की Gutenberg में default block है.

इसके बाद आप cursor को जहाँ भी नीचे scroll करेंगे तो +Plus button मिलेगा. By default, ये button ‘Paragraph’ block पर set किया गया है ताकि आप direct typing शुरू कर सके.

पर आप +Plus button क्लिक करके कोई भी block add कर सकते है. Search option top में ही दिए गया है. इसमें आप block search करके जैसे की image, html code, quote, etc add कर सकते है.

यहाँ पर अलग अलग tabs दिए गए है, जहाँ पर अलग अलग categories में blocks मौजूद है.

Basic Gutenberg Blocks का इस्तेमाल:

Paragraph block:

Paragraph block
वैसे तो गुटेनबर्ग में लिखने से पहले paragraph block add करना ज़रूरी नहीं है. आप directly भी typing शुरू कर सकते है.

जब आप type करेंगे तब paragraph block के upar एक floating menu bar आ जाएगा. इसका इस्तेमाल करके आप text की alignment, text style जैसे की bold, italic, etc set कर सकते है.

Image block:

Gutenberg Image Block
Gutenberg editor में image डालना बहुत आसान है.

आप जहाँ image add करना चाहते है, वहां mouse का pointer scroll कीजिये और +Plus पर क्लिक कीजिये. इसके बाद आपको image block मिलेगा, जिसपर  क्लिक करके आप image add कर सकते है.

Link add करे:

Link add kare
Text टाइप करते वक़्त आपको floating मेनू बार मिलेगा. इसमें से link button पर क्लिक करके आप किसी भी text पर  anchor link लगा सकते है.

Embedding Video block:

YouTube block
Image block जैसे ही, Gutenberg में आप social media जैसे की youtube के videos आसानी से add कर सकते है.

+Plus button क्लिक करके embeds tab में जाये. यहाँ पर youtube option select करे,

फिर बस जो भी video add करना है, उसकी link यहाँ paste कर दीजिये. इसी के साथ आपकी video blog-post में add हो जाएगी.

Post settings और publish settings:

Post and Page settings

किसी भी Post को publish करने से पहले उसमे काफी data add करना पड़ता है जैसे की meta-data, post-excerpt, permalink structure, publishing date, वगेरा

यह सभी options Gutenberg में settings बटन क्लिक करने से available होते है. Settings बटन page के right side में top corner पर मौजूद है. यहाँ पर दो तरीके की settings दी गयी है, Document settings और Block settings.

Document settings में जाकर आप page या post को publish करने के पहले changes कर सकते है.

अन्य Gutenberg blocks:

इन सब बेसिक blocks के अलावा भी काफी सारे Gutenberg blocks है जिसकी आपको ज़रूरत लग सकती है. जैसे की Google Maps add करने के लिए Google Maps block. ये ज्यादातर contact page को users के लिए easy बनाने के लिए इस्तेमाल होता है.

इसके अलावा आपकोअपना कंटेंट शेयर करने के लिए सोशल शेयरिंग ब्लॉक की भी ज़रूरत पढ़ सकती है. और भी ऐसे कई सारे ब्लॉक्स है जिसकी आपको धीरे-धीरे ज़रूरत महसूस होने लगेगी.

Conclusion:

वर्डप्रेस 5.0 एक बहुत ही बड़ा update है और अभी तक इसमें काफी improvements होने बाकी है. उम्मीद है की ये नया ‘Drag and drop’  editor लोगो को पसंद आएगा क्योंकि अब सभी WordPress development companies को इसके अनुसार बदलाव करने पड़ेंगे.

फ़िलहाल के लिए तो इसके बारे में ज्यादा कुछ नई कह सकते, पर फिर भी अगर लोग पुराने classic editor ही इस्तेमाल करना चाहते है तो ये option भी available है. 

आशा करता हु, इस WordPress Gutenberg tutorial in Hindi post से आपको गुटेनबर्ग के बारे में basic जानकारी मिल चुकी है जैसे की Gutenberg क्या है, कैसे  काम करता है, वगेरा…

अगर आपको ये blog post पसंद आयी, तो comment करके बताए और Share करे अपने दोस्तों के साथ ताकि सब technology से जुड़े रहे.

Share this:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *